एक चाय सुट्टा बार से लेकर विदेशी आउटलेट तक अनुभव दुबे की सफलता की कहानी | चाय सुट्टा बार

चाय, इसकी आदत किसे नहीं! पर 22 साल के अनुभव दुबे अपनी UPSC की तैयारी करते हुए ये सोच रहे थे कि इस चाय की लत को एक बिज़नेस आईडिया में कैसे बदला जाये | चाय पानी के बाद सबसे ज्यादा खपत करने वाला पेय है |

अनुभव दुबे कौन है –

अनुभव दुबे एक 25 साल के युवा व्यवसायी है, जो मध्यप्रेदश के रीवा शहर के रहने वाले है और एक सामान्य मध्यवर्गीय परिवार से बिलोंग करते है | अनुभव दुबे की प्रारम्भिक शिक्षा महर्षि विद्या मंदिर से पूर्ण हुई|

एक चाय सुट्टा बार से लेकर विदेशी आउटलेट तक अनुभव दुबे की सफलता की कहानी | चाय सुट्टा बार

8 वी क्लास में जब अनुभव दुबे अपनी पढ़ाई के लिए इंदौर गए थे | तो वहाँ ये अपने दोस्तों की पॉकेट मनी इकट्ठा करके इंदौर के एक सेकंड हैण्ड मार्केट से मोबाइल खरीदते थे |

उसको थोड़े टाइम यूज़ करके वापस बेच देते थे | इससे प्रॉफिट कमाते थे | यही से इनके दिमाग में अपना खुद का बिज़नेस करने का आईडिया आया | इसी गुजरते समय के दौरान जब ये 2016 में दिल्ली से UPSC की तैयारी कर रहे थे |

तब अनुभव दुबे के पास इनके दोस्त आनंद का कॉल आया और बिज़नेस की बात सुनकर अनुभव दुबे अपनी UPSC की पढ़ाई छोड़कर इंदौर आ गये | यही से अपने खुद के बिज़नेस “Chai Sutta Bar” की शुरुआत की |

 

चाय सुट्टा बार :

चाय सुट्टा बार की शुरुआत अनुभव दुबे ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर 3 लाख रूपये से की थी | चाय सुट्टा बार में सुट्टा बार नाम कस्टमर को अट्रैक्ट करने के लिए रखा गया था | सुट्टा बार का मतलब स्मोकिंग से बिल्कुल भी नहीं है |

चाय सुट्टा बार की खास बात ये है कि यहां चाय कुल्हड़ में सर्व की जाती है | जो हर रोज नए इस्तेमाल किये जाते है | कहते है हिम्मत और कुछ अलग करने की चाह सब कुछ संभव बना देती है | और कुछ ऐसा ही अनुभव दुबे के साथ हुआ |

एक से दो और दो से तीन इस तरह महज 6 महीने में इंदौर में 4 आउटलेट खोल चुके थे | इस सफर के साढ़े 4 साल में चाय सुट्टा बार के 135 से ज्यादा आउटलेट हो चुके थे | जहां एक दिन में 3 लाख से ज्यादा कुल्हड़ चाय बेची जाती है |

जो 300 से ज्यादा परिवार को रोजगार भी देता है | आज चाय सुट्टा बार में 1500 से ज्यादा लोग काम करते है |

चाय सुट्टा बार के मेनू को 13 पार्ट्स में बनाया गया है जिसमे चाय, हॉट कॉफ़ी, कोल्ड कॉफ़ी, शेक, फ्रूट शेक, आइस टी, आइस क्रीम, मॉकटेल, फ्रेपे, बिट्स, मैगी, पास्ता, सैंडविच आदि शामिल है |

 

चाय सुट्टा बार इनकम :

2016 में चाय सुट्टा बार की शुरुआत 3 लाख रूपये से की गयी थी और आज साढ़े 4 साल बाद 100 करोड़ से ज्यादा का बिज़नेस कर चूका है |

चाय सुट्टा बार कि न सिर्फ भारत में बल्कि दुबई, मस्कट, ओमान, नेपाल में भी आउटलेट है | इसके अलावा अभी कनाडा और अमेरिका में भी आउटलेट खोलने वाले है |

यह भी पढ़ेमेघालय से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी

Follow Us: Instagram