डब्ल्यूएचओ | विश्व स्वास्थ्य संगठन क्या है? पूरी जानकारी

डब्ल्यूएचओ यानी वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन जिसे हिंदी में विश्व स्वास्थ्य संगठन कहा जाता है इसकी यूनाइटेड नेशन के द्वारा 7 अप्रैल 1948 में स्थापना की गई थी डब्ल्यूएचओ हेल्थ के लिए यूनाइटेड नेशन की स्पेशलिस्ट एजेंसी है |

वैसे यह एक इंटरनेशनल ऑर्गेनाइजेशन है जो अपने साथ जुड़े देशों की हेल्थ मिनिस्ट्रीस के साथ मिलकर काम करता है | विश्व स्वास्थ्य संगठन के अध्यक्ष Tedros Adhanom है

विश्व स्वास्थ्य संगठन क्या है? पूरी जानकारी | डब्ल्यूएचओ

डब्ल्यूएचओ का हेड ऑफिस स्विजरलैंड के जेनेवा में है | डब्ल्यूएचओ दुनिया में हेल्थ रेलेटेड मामलों में लीडरशिप देने से लेकर रूल्स और स्टैंडर्ड तय करने, देशों को टेक्निकल सपोर्ट प्रोवाइड करने और हेल्थ ट्रेंड्स की निगरानी और एस्टिमेशन करने तक का काम करता है |

डब्ल्यूएचओ/विश्व स्वास्थ्य संगठन

जैसे की आज-कल चल रहे कोरोनावायरस में जितनी भी गाइडलाइन्स और रूल्स बनाए गए है जैसे की हाथ धोना, मास्क पहनना ये सब डब्ल्यूएचओ ने ही बनाए है |

डब्ल्यूएचओ मातृ, बाल और किशोर स्वास्थ्य, एपेडेमिक कंट्रोल और दूसरे रोग हेल्थ के सोशल डेटर्मिनेन्ट, हेल्थ प्रॉटेक्शन और इमरजेंसी सीटूशन्स पर काम करता है |

डब्ल्यूएचओ की नजर पूरी दुनिया के हेल्थ पैटर्न और सिचुएशन पर रहती है | इसके पास दुनिया का सबसे बड़ा ब्लड बैंक है | दुनिया की कई बीमारियों जैसे हैजा, मलेरिया, चेचक वायरस जैसी बीमारियों को रोकने के लिए डब्ल्यूएचओ अपना महत्वपूर्ण योगदान देता है |

डब्ल्यूएचओ अब तक 10 जानलेवा बीमारियों की पहचान कर चुका है जिनमें कैंसर, परिधीय संवहिनी रोग, एक्यूट लोअर रेस्पिरेट्री इनफेक्शन, पैरेंटल कंडीशन, TB, कोरोनरी हार्ट डिजीज, क्रॉनिक ऑब्स्ट्रक्टिव पलमोनरी डिसीज, डायरिया, डिसेंट्री और एड्स HIV भी शामिल है|

अब बात आती है कि डब्ल्यूएचओ को फंडिंग कहां से मिलती है, डब्ल्यूएचओ को खर्च करने के लिए पैसे कहां से मिलते हैं | डब्ल्यूएचओ की फंडिंग का सबसे बड़ा जरिया है अमेरिका | अमेरिका सबसे ज्यादा फंड करता है डब्ल्यूएचओ को |

डब्ल्यूएचओ ने 2019 से 2023 के लिए 14.14 बिलियन अमेरिका डॉलर इन्वेस्ट करने का गोल रखा है | डब्ल्यूएचओ की ऑफिशल वेबसाइट के मुताबिक ये वो अमाउंट है जो डब्ल्यूएचओ को अपनी 5 साल की रणनीति और उसकी महत्वाकांक्षा ट्रिपल बिलियन गोल पर देने की जरुरत है |

डब्ल्यूएचओ का कहना है की उनकी पहुंच 1 अरब से कई ज्यादा लोगों तक है |

इसलिए उन्हें इसके लिए ट्रिपल बिलियन निवेश की जरूरत है | डब्ल्यूएचओ को सिर्फ अमेरिका ही नहीं बल्कि उसके जितने भी 193 मेंबर कन्ट्रीज है, सभी फंडिंग करते है जो की बिलियन में है |

निष्कर्ष यह हुआ कि डब्ल्यूएचओ एक हेल्थ आर्गेनाइजेशन है, जो कि पूरी दुनिया की हेल्थ को मॉनिटर करती है, नई-नई बीमारियों की खोज करती है और उनके लिए इलाज तैयार करती है साथ ही उनके लिए गाइडलाइंस भी बनाती है |

यह भी पढ़ें: 4 दही खाने के बेमिसाल फायदे जो जानकर आप दही खाने लगेंगे | curd benefits in hindi – dahi khane ke fayde

Follow Us: Instagram